Kolkata
: आज के जिंदगी के भाग दौड़ में कई ऐसी चिजें हैं जो पिछे छूट जाती है । उनमें से एक चिज है जो समाज के निचले तबके से आते हैं , वे असहाय , गरीब दरीद्र , लोग , जिसकी जरुरते शायद कभी पूरे हो । ये लोग सीर्फ दुनियाँ के खूबसूरत चकाचौंध को देखते हैं पर अपनी जरूरतों को पूरा नहीं कर पाते । दो वक्त की रोटी व वस्त्र भी जुगाड़ नहीं । बड़े बड़े त्योहारों व मेले में भी ये दृश्य देखने को मलती है कि लोग अपने बच्चों व परिवार के साथ खुशीयाँ मना रहे हैं , अच्छे अच्छे वस्त्र पहने हैं , अच्छी अच्छी चिज खाकर आनन्द उठा रहे हैं , वहीं उस के आस पास में ऐसा भी दृश्य दिखाई पड़ती है , कि.जो दील को झकझोर देती है । दो पैसे के चाहत में , फटे चिटे कपड़े पहने व्यक्ति व बच्चे कुछ साम्रगी लिए लोगों को ताकते रहते हैं ! उनके लिए आम दिन व उत्सव एक समान होते हैं पर वे भी मानव है । इन्हीं दृश्य व समस्याओं से प्रेरीत होकर कुछ मानवतारुपी व्यक्तियों द्वारा कोलकाता में दो वर्ष पूर्व फीड इंडिया मुवमेंट ” नाम की संस्था स्थापित की गई जिसका मूल कार्य जरूरत मदों की सेवा करना है । थे लोग किसी अनुष्ठान , उत्सव , शादी विवाह श्राद्ध जन्म दिन के पार्टी में बचे हुए अतिरिक्त भोजन सामग्री को इक्कठा कर में फिर , झग्गी बस्तियों , फूट पात व अन्य जगहों पर जाकर उस भोजन का वितरण कर जरूरतमंदों की सेवा का कार्य करते हैं । इसके अतिरिक्त जो पुराने वस्त्र भी लोगों से मांगकर वितरण का कार्य करते हैं । इस मानवतारुपी सेवामूलक कार्य में कई सदस्य जुड़ कर मुफ्त सेवा दे रहे हैं । अब तक लगभग एक लाख जरूरतमंदों को को सेवा दे चुकी है यह संस्था | वैसे तो हर एक सदस्य व पदाधिकारी है इस सेवामूलक में , जो सभी निःस्वार्थ एवं ईमानदारी पूर्वक खुद के खर्ची पर भी सेवा दे रहे हैं । अभिभावक के रूप में श्री उमाकांत मिश्रा , डा . रुमा गोम्स , श्रीमति चैताली दास , एंव श्री अरीन्दम , अचार्य जी का मूल्य सहयोग से यह संस्था औ लिए भी प्रेरणादायक बनती जा रही है । संस्था के अध्यक्ष वी के शर्मा ने बताया कि हमारा यह छोटा सा प्रयास लोगों की सेवा मे समर्पण है । हमारा लक्ष्य है , इस सेवा मूलक कार्य में निःस्वार्थ भाव से और मानवतारुपी लोगों को जोड़ना ! वहीं संख्या के सचिव श्री पी.के. दास जी का कहना है कि किसी भी समाज व संख्या में ईमानदारी एवं पारदर्शिता सर्वोपरी होता है , इस विश्वास और लक्ष्य के साथ हमलोग एक कदम आगे बढ़ रहे हैं . और उम्मीद करता है कि इसमें और भी अच्छे लोग जुड़े , तथा मदद करे, ताकी जरुरतमंदो के घर भी थोड़ी चिराग जल सके । कोरना काल से लेकर अब तक फीड इंडिया मूवमेंट निरंतर. जरूर त लोगों. खाना खिला रही । संस्था के इस कार्य के लिए राँची प्रेस कल्ब में आयोजित एक समिनार में उतकृष्टि सम्मान से सम्मानित किया गया । संस्था का मूल उदेश्य है कि किसी को भूखा ना सोना पडे । कोलकाता जैसे महानगर मे कितनें लोगों को भूखा सोना पड़ता है परन्तु इसके दूसरे तरफ होटलो रेस्टारा तथा अन्य अनुष्ठानों में खानें कि बर्बादि हो रही है । आप इसे ने फेंक कर फीड इंडिया क हेल्प लाइन नंबर 983618 6 311पर फोन कर खाने को नष्ट होनें से बचा सकते हैं जिससे किसी ओर लोंगो कि जरूरत पूरा कर सकती है |

Leave a Reply

Your email address will not be published.