Kolkata

आज रविवार को बेरमो प्रखंड के बेरमो स्टेशन के पास झुग्गी बस्ती प्रेम नगर में बाल अधिकार सरंक्षण जागरूकता अभियान बाल अधिकार कार्यकर्ता सह शिक्षाविद के नेतृत्व व अगुवाई मे चलाई गयी ।

झुग्गी मे बाल अधिकारों , बाल कानून व बाल मुद्दों पर अद्यतन जानकारी दी गयी । झुग्गी बस्ती में नशे सेवन व बाल अपराध कार्यों में बच्चों का झुकाव अधिक होता । अभिभावकों की भूमिका नगण्य मात्र , इस परिस्थिति में माता पिता अभिभावकों समुदायों में नशे मुक्त समाज निर्माण में अभिभावकों की क्या भूमिका रहे , बच्चों मे कैसे नशे की लत लगती , किन सर्वसुलभ व आसानी से मिलने वाले नशे उत्पादों से बच्चों में नशे की आदत विकसित होती , बच्चे कैसे बाल अपराध की ओर प्रवृत्त होते जाते आदि पर बारीकी से मनोवैज्ञानिक विश्लेषण उदाहरणों के साथ बतलाये गये । अभिभावकों की क्या भूमिका हो , घर में बच्चों को कैसे दिशा निर्देश मार्गदर्शन दिये जायें आदि पर चर्चा । बच्चों के संगति आदि पर ध्यान एवं समाजीकरण किस तरह से बच्चों के समग्र विकास में सहायक आदि पर चर्चा ।

बाल विवाह , बाल श्रम , बाल दुर्व्यवहार व दुर्व्यापार , बाल दुर्व्यसन , बाल उत्पीड़न व यौन उत्पीड़न , नशे मुक्त बचपन , अपराध मुक्त बचपन निर्माण का संकल्प ली गयी । किशोर न्याय अधिनियम , पोक्सो कानून , संकट कालीन नो 1098 का समुचित उपयोग के तरीकों को बतलाया गया । झुग्गी बस्तियों में बच्चे सर्वाधिक असुरक्षित हैं , गलत संगति , गलत समाजीकरण की प्रक्रिया में शामिल हैं अतः बाल मुद्दों पर संवेदनशीलता की ओर ले जाने का प्रयास जागरूकता मुहिम के तहत ।

आज के अभियान में बेरमो स्टेशन के पास शिक्षक विकास सिंह , मानव अधिकार के कार्यकर्ता अनूप कुमार साव , समाज सेवी अनिल अग्रवाल , रोहित कुमार , भण्डारिका यादव , मुकेश भारती , नारायण रविदास , अमर नाथ , संदीप , सुनीता देवी , कौशल्या देवी , सुमन पांडे , रेणु देवी , सुजीत युवाओं में कृष्ण कांत तिवारी , वर्तिका राज , ऋषभ कुमार आदि उपस्थित थे । युवाओं की शारीरिक सहभागिता से बच्चों व समुदायों में मास्क वितरण का कार्य किया गया । प्रतिस्पर्धा करवाकर स्टेशनरी सामग्री , चॉकलेट आदि वितरित ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.